कुलभूषण जाधव केस में भारत की जीत, हरीश साल्वे पड़े पाकिस्तान के दोनों वकीलों पर भारी

511
Kulbhushan Jadhav Case Verdict

Kulbhushan Jadhav Case Verdict – काफी लम्बे समय से चले आ रहे है कुलभूषण जाधव केस को लेकर बीते बुधवार यानी की 17 जुलाई 2019 को आखिरी फैसला सुनाया जाना था। इंटरनैशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस (ICJ) में चल रहे कुलभूषण जाधव केस में पाकिस्तान को हार का सामना करना पड़ा। भारत के गर्व की बात यह है की जहाँ पाकिस्तान के दो – दो वकील इस केस को लड़ रहे है वही भारत के हरीश साल्वे ने उन्हें अकेले ही इस कुलभूषण जाधव केस में हरा दिया है। यह भारत की अंतराष्ट्रीय स्तर पर एक बहुत बड़ी जीत है। इतना ही नहीं कुलभूषण जाधव केस में हरीश साल्वे को मिली जीत के चलते कुलभूषण (Kulbhushan Jadhav Case Verdict) की फांसी पर सम्पूर्ण रूप से रोक लगा दी है। बहुत कम लोगों को पता है की इस कुलभूषण जाधव केस के लिए भारतीय वकील हरीश साल्वे द्वारा कितनी फीस ली गई थी। News Update के अनुसार, अब हम आपको जो बताने जा रहे है आप वह सुनकर हैरान रह जाएंगे। भारतीय वकील हरीश साल्वे ने इस कुलभूषण केस को लड़ने के लिए मात्र एक रूपये की फीस ली थी। जबकि पाकिस्तान में अबतक 20 करोड़ रूपये की धनराशि को खर्च कर दिया है।

Kulbhushan Jadhav Case Verdict

भारतीय वकील हरीश साल्वे ने पाकिस्तान के सभी सबूतों को गलत साबित किया

कुलभूषण जाधव केस ने भारतीय वकील हरीश साल्वे ने पाकिस्तान तरह से पेश किए गए सभी सबूतों को गलत साबित कर दिया है। वकील हरीश साल्वे ने पाकिस्तान को सभी सबूतों को गलत साबित करने के साथ ही साथ इस बात को भी रखा है की पाकिस्तान ने कुलभूषण जाधव को कॉउंसलर एक्सेस ने देकर वियना संधि का उल्लंघन किया है। कुलभूषण जाधव को पहले फांसी की सजा सुनाई गई थी जिसे हरीश साल्वे द्वारा रुकवा दिया गया है। हरीश साल्वे अपने तर्कों को सफलतापूर्वक इंटरनेशनल कोर्ट में रख पाने में कामियाब रहें है। पाकिस्तान के वकील खावर कुरैशी को इस कुलभूषण जाधव केस में करारी हार का सामना करना पड़ा है। इस कुलभूषण जाधव केस (Kulbhushan Jadhav Case Verdict) में भारतीय वकील हरीश साल्वे द्वारा कोर्ट में पेश के किए गए सभी सबूतों को 15-1 के बड़े अंतर से भारत के पक्ष में सुना दिया है। इसके बाद पाकिस्तान के सभी झूटों का अच्छे से पर्दाफाश हो गया है। कुलभूषण जाधव केस में हरीश साल्वे को जीत मिलने के बाद उन्हें सोशल मीडिया पर बधाइयां दी जा रही है। तथा देश में इस समय खुशी का माहौल है।

कौन है हरीश साल्वे

हरीश साल्वे भारत के सबसे महंगे वकीलों में से एक है। भारत की ओर से कुलभूषण जाधव का केस (Kulbhushan Jadhav Case Verdict) भारत के ही प्रसिद्ध वकील हरीश साल्वे द्वारा लड़ा जा रहा था। जिसमें हरीश साल्वे ने पाकिस्तान के वकीलों की एक नहीं चलने दी। तथा इंटरनेशनल कोर्ट में पाकिस्तान के सभी सबूतों को बेबुनियाद साबित कर दिया है। यह केस कराने के बाद पाकिस्तान का कद अंतराष्ट्रीय स्तर पर और भी अधिक कम हो गया है। हरीश साल्वे भारतीय सुप्रीम कोर्ट के एक वरिष्ठ वकील है। इतना ही नहीं हरीश साल्वे की गिनती देश के सबसे अधिक महंगे वकीलों में की जाती है। ख़बरों के अनुसार, हरीश साल्वे यदि किसी केस को अपने हाथ में लेते है तो उनकी एक दिन की फेस करीबन 30 लाख रूपये होती है। परन्तु इस वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे ने कुलभूषण जाधव केस को लड़ने के लिए मात्र 1 रूपये की फीस को चार्ज किया है। बहुत कम लोग जानते है की वकील हरीश साल्वे वर्ष 1999 से लेकर वर्ष 2002 तक के भारत के सॉलिसिटर जनरल भी रह चुके है। तथा हरीश साल्वे के पिता का नाम एनकेपी साल्वे है था वह पूर्व कांग्रेस के सांसद और क्रिकेट प्रशासक भी रह चुके है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here