अपनी राशि के अनुसार कैसे करे अपने कान्हा का श्रृंगार इस जन्माष्टमी?

78
Krishna Janmashtami

Krishna Janmashtami: कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाता हैं। जैसाकि हम सभी जानते हैं कि इस वर्ष यह त्यौहार 23 और 24 अगस्त को दोनों ही दिन मनाया जा रहा है। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार, भगवान श्रीकृष्ण का जन्म भाद्र माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को रोहिणी नक्षत्र में हुआ था। वर्ष 2019 के पंचांग के मुताबिक, अष्टमी तिथि 23 अगस्त को सुबह 8:09 बजे से लेकर 24 अगस्त को सुबह 8:32 बजे तक रहेगी।

24 अगस्त को रोहिणी नक्षत्र सुबह 3:48 बजे से आरम्भ होगा और 25 अगस्त की सुबह 4 बजकर 17 मिनट पर ख़त्म होगा। ऐसे में हम आपको बताने जा रहे है कि जन्माष्टमी के अवसर पर आप कैसे अपनी राशि के अनुसार, भगवान श्रीकृष्ण का श्रृंगार कर सकते हैं और कौन सी मिठाई का भोग लगाकर आप भी प्राप्त कर सकते हैं कान्हा का आशीर्वाद।

कुछ ऐसे करे अपने कन्हैया का श्रृंगार – (Krishna Janmashtami)

मेष राशि – मेष राशि वाले लोगों को श्रीकृष्ण का श्रृंगार लाल रंग के वस्त्र से करना चाहिए क्योंकि मेष राशि का स्वामी ग्रह मंगल है। आपके लिए घर के मंदिर,पालकी या फिर झांकी की सजावट में अधिक से अधिक लाल रंग का प्रयोग करना अच्छा रहेगा। आप भगवान कृष्ण को मिश्री का भोग अवश्य लगाएं।

वृषभ राशि – वृषभ राशि का स्वामी शुक्र ग्रह है। शुक्र को सफ़ेद या सिल्वर रंग प्रिय है इसलिए भक्तों को चांदी (सिल्वर) के रंग का या फिर एकदम सफेद रंग का इस्तेमाल भगवान कृष्ण के श्रृंगार में करना चाहिए। मंदिर या अन्य सजावट में सफेद रंग का भरपूर इस्तेमाल करें। जन्माष्टमी में कान्हा को मक्खन का भोग जरूर लगाएं।

मिथुन राशि – मिथुन राशि के लोगों को कृष्ण जन्माष्टमी के दिन कान्हा के श्रृंगार में हरे रंग का प्रयोग करना चाहिए। इस राशि के स्वामी ग्रह बुध हैं और बुध को हरा रंग अतिप्रिय है। इस दिन आप भगवान कृष्ण को दही का भोग अवश्य ही लगाएं। ऐसे करने से आपको जीवन के हर क्षेत्र में लाभ मिलेगा और समस्याएं दूर होंगी।

कर्क राशि – कर्क राशि का स्वामी चन्द्रमा हैं इसलिए लड्डूगोपाल के श्रृंगार में सफेद रंग का इस्तेमाल ज्यादा से ज्यादा करें। भगवान कृष्ण को प्रसाद में दूध और केसर का भोग लगाएं।

सिंह राशि – इस राशि के लोगों को श्रीकृष्ण को लाल और गुलाबी रंग के वस्त्र पहनाने चाहिए। सिंह राशि के स्वामी ग्रह सूर्य हैं। घर के पूजा स्थल और पालकी को सजाने में लाल फूलों का खूब इस्तेमाल करना चाहिए। बालगोपाल को मक्खन का भोग लगाना आपके लिए फायदेमंद साबित होगा।

कन्या राशि – कन्या राशि के जातकों को कान्हा का हरे रंग के वस्त्रों से श्रृंगार करना चाहिए। इस राशि का स्वामी ग्रह बुध है। जन्माष्टमी के दिन लड्डूगोपाल को मावे से बनी मिठाई और दही का भोग जरूर लगाएं।

तुला राशि – इस राशि के लोगों को सफेद वस्त्र की मदद से भगवान कृष्ण का श्रृंगार करना चाहिए। तुला राशि का स्वामी शुक्र हैं। इस अवसर पर घी और दही का भोग कन्हैया को लगाए। ऐसा करने से आपके द्वार पर समृद्धि आएगी।

वृश्चिक राशि – इस राशि के स्वामी ग्रह मंगल हैं इसलिए भगवान श्रीकृष्ण को लाल रंग के वस्त्र पहनाएं और सजावट में लाल रंग का अधिक से अधिक उपयोग करे। इस पर्व पर आपके लिए मक्खन और मिश्री का भोग कान्हा को लगाना बेहतर रहेगा।

धनु राशि – धनु राशि के अधिपति ग्रह बृहस्पति हैं इसलिए पीले वस्त्र से भगवान कृष्ण का श्रृंगार करें। मंदिर और झांकी की सजावट में पीले रंग का इस्तेमाल करे। जन्माष्टमी के दिन पीले रंग की ही मिठाई का कान्हा को भोग लगाएं। ऐसा करने से आपके जीवन में खुशियां बनी रहती हैं।

मकर राशि – मकर राशि के भक्तों को भगवान कृष्ण के श्रृंगार में पीले और लाल रंग का अत्यधिक प्रयोग करना चाहिए। इस दिन कन्हैया को मिश्री का भोग अवश्य लगाएं।

कुंभ राशि – कुम्भ राशि के अधिपति ग्रह शनि हैं। इस तरह कुंभ राशि के लोगों को श्याम रंग या नीले रंग के वस्त्र से कन्हैया को सजाना-संवारना चाहिए। जन्माष्टमी के दिन श्रीकृष्ण को बालूशाही और दही का भोग अवश्य लगाना चाहिए।

मीन राशि – मीन राशि के स्वामी ग्रह बृहस्पति है। इस राशि के जातकों को अपने कन्हैया का साज-श्रृंगार पीले रंग के वस्त्र से करना चाहिए और पीले रंग की ही मिठाई अर्पित करें। भोग के रूप में कान्हा को केसर और बर्फी भी चढ़ा सकते हैं।

Krishna Janmashtami जन्माष्टमी एक ऐसा त्यौहार जिसमे व्रत, पूजा-पाठ, श्रृंगार और भोग द्वारा अपने भक्तों के दिलों पर राज़ करने वाले कन्हैया का आशीर्वाद प्राप्त कर सकते है। अगर आप भी श्रीकृष्ण की कृपा प्राप्त करना चाहते है तो ये साधारण से उपाय अपना सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here